दुधिया- hasya kavita Doodh Ka Hisaab

Humorous poems

दुधिया- hasya kavita Doodh Ka Hisaab

दुधिया



 हमारी गली में
आता है
एक दुधिया |
मैंने भी उससे
एक दिन
आधा लीटर लिया |


मैंने दिया
उसे 20 का नोट,
जो था थोडा कटा हुआ |
वो बोला
अरे भैया हमने दिया कभी
दूध आपको
फटा हुआ |


कमाल है
थोड़ी तो
शर्म किया करो |
नोट तो
कम से कम
ढंग का दिया करो |


मैंने भी
नोट पानी में
भिगोके निकाला
और उसको दे डाला |


वो चिल्लाया
अरे ये क्या कर दिया !!!!
मैंने कहा
तुमने दूध में
पानी तो मिक्स किया है |
इसीलिए
मैंने ये नोट
गीला करके तुमको दिया है |


– दिनेश गुप्ता ‘दिन’

दुधिया- hasya kavita Doodh Ka Hisaab


hasya kavita Doodh Ka Hisaab